कार्यशाला का आयोजन जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में किया गया

कार्यशाला का आयोजन जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में किया गया

जयपुर दिनांक 07 जुलाई, 2017। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश स्तर पर जिले के मण्डल अध्यक्षों, जिला मीडिया प्रमुख, जिला आई.टी. प्रमुख, जिलाध्यक्ष, जिला प्रवक्ताओं की कार्यशाला का आयोजन जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में किया गया।

कार्यशाला का शुभारम्भ राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी द्वारा डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पण्डित दीनदयाल उपाध्याय एवं भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर हुआ।

कार्यशाला के प्रथम सत्र में अध्यक्षीय उद्बोधन  में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने कहा कि पूरे प्रदेश मण्डल अध्यक्षों की एवं प्रमुख कार्यकर्ताहओं की यह पहली कार्यशाला हो रही है। हमें गर्व है कि हम ऐसी पार्टी के कार्यकर्ता है, जो राजनैतिक दल के रूप में भारतवर्ष में ही नहीं सम्पूर्ण विश्व में सबसे बड़े दल के रूप में उभर कर आये है। आज भाजपा के सबसे अधिक सांसद, सबसे अधिक विधायक, सबसे अधिक प्रदेशों में सरकारें है। तथा पूरे भारतवर्ष में एक बड़ा रूप भारतीय जनता पार्टी ने बना लिया है। इसलिए संगठन के विस्तार को और अधिक मजबूती मिलनी चाहिए। पहले 546 मण्डल थे, आज पूरे प्रदेश में 1036 मण्डल बने है। इसके पीछे एक उद्देश्य है कि किस प्रकार संगठन को नीचे तक मजबूती प्रदान कर सकें।

परनामी ने कहा कि राजस्थान में 47 हजार बूथों का निर्माण हो चुका है। बूथ कमेटियाँ बन चुकी है, जो घर-घर जाने का कार्य कर रही है।
विस्तारक योजना का पहला चरण पूर्ण होने जा रहा है। कार्यकर्ताओं को 2018 के विधानसभा चुनाव एवं 2019 के लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए संगठन को मजबूती प्रदान करने की दिशा में कार्य करना चाहिए। कांग्रेस ने 55 वर्ष तक देश में गरीबी हटाने के नाम से चुनाव लड़े। लेकिन न तो गरीबी हटी और ना हीं विकास के कार्य हुए। आज मोदी जी के कार्यकाल में गरीबलक्षी योजनाओं पर ध्यान दिया जा रहा है। क्योंकि भाजपा की सोच पण्डित दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय के सिद्धान्त को ध्यान में रखते हुए समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुँचना है। जिस प्रकार मुद्रा योजना, उज्जवला योजना,दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, भामाशाह योजना, जल स्वावलम्बन योजना गरीब की झोपड़ी तक पहुँच रही है।

राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश ने मण्डल अध्यक्षों को किस प्रकार कार्य करना चाहिए उस पर विस्तृत रूप से प्रकाश ड़ाला। उन्होंने कहा कि अधिकाधिक लोगों को मण्डल कार्यकारिणी में काम देना चाहिए, सबको साथ लेकर टीम भावना से काम करेंगे तो सफलता निश्चित रूप से मिलेगी। आज भारतीय जनता पार्टी समाज के बीच में प्रमाणिकता, कार्य क्षमता, विकास, जन सहभागिता के रूप में जानी जा रही है।
देश के अन्दर अनुकूलता बढ़ रही है, मण्डल एवं बूथ अध्यक्षों को अनुकूलता का लाभ उठाकर संगठन का विस्तार करना चाहिए। आज जनता के बीच में यह सुनिश्चित हो चुका है कि परिवारवाद एवं जातिवाद के नाम पर राजनीति नहीं चलने वाली है। विकास, राष्ट्रवाद, गरीबलक्षी योजनाओं के नाम पर राजनीतिक दल राजनैतिक क्षेत्र में टिक पायेंगे।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेशा प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने इस अवसर पर कहा कि पूरे राजस्थान के मण्डल अध्यक्षों से मिलने के लिए कम से कम 1 महिने का समय चाहिए। लेकिन आज ऐसा अवसर मिला कि पूरे राजस्थान के मण्डल अध्यक्ष इस हॉल में उपस्थित है। आप सभी पार्टी के कमाण्डर है, आप सभी को बूथ की संरचना करते हुए घर-घर सम्पर्क तथा एक-एक वोट की जानकारी करके पहुँचने का प्रयास करना चाहिए।

सभी मण्डल अध्यक्षों को बूथ की रचना में हॉकर, डॉक्टर,दूकानदार, पूर्व पटवारी, पूर्व सरपंच लगभग सभी वर्गों की सूची तैयार करके बूथ को मजबूती प्रदान करनी चाहिए। आज नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने गरीब एवं अमीर की खाई को समाप्त कर दिया है।
राजस्थान प्रदेश साहसी एवं वीरों की भूमी है, यहाँ तक कि पशु भी देशभक्त है, ऐसा महाराणा प्रताप के चेतक घोड़े एवं रामप्रसाद हाथी की देशभक्ति देखने से पता चलता है। इसलिए आने वाली जनता काँग्रेस को नहीं चुनेंगी।

राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने समापन सत्र को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस बैठक में पधारे प्रदेशभर के सभी मण्डल अध्यक्ष वो लोग है जो नींव का पत्थर है। यह उन लोगों की फौज है जिन्होंने राजस्थान में बदलाव लाने का काम किया है।

भारतीय जनता पार्टी 36 की 36 कौमों को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है। और सभी को न्याय मिलें ऐसा कार्य करती हैं। केन्द्र एवं राज्य सरकारें ऐसा कार्य कर रही है कि अब शर्मिन्दा नहीं बल्कि सिर उठाकर-छाती ठोंककर कह सकते है कि 15 किलोमीटर प्रतिदिन सड़क पर, 5 करोड़ रोज सड़क पर खर्च, 12 करोड़ रूपये से ज्यादा पानी के प्रोजेक्ट्स, 4 ग्राम पंचायत प्रतिदिन ओडीएफ हो रहे है।

भारतीय जनता पार्टी में लोगों का विश्वास बढ़ा है। इसलिए 3सी की धारणा से आपके सामने कोई खड़ा नहीं हो सकता है, वो है कनेक्ट,को-ऑपरेशन एवं कन्विंस। इन तीनों धारणाओं को हमें ध्यान में रखते हुए भाजपा के मण्डल एवं बूथ को मजबूत रखना है।

राष्ट्रीय आई.टी. संयोजक अमित मालवीया ने सोशल मीडिया का एक पॉवर प्रजेंटेशन प्रस्तुत करते हुए कहा कि देश में 46 करोड़ लोग इन्टरनेट से जुड़े हुए है, जिसमें से 40 करोड़ लोग इन्टरनेट को मोबाईल फोन के माध्यम से इस्तेमाल करते है। राजस्थान में 1 करोड़ लोग फेसबुक (एफबी)पर है, जिसमें से 17 से 30 साल के 70 लाख युवा फेसबुक का इस्तेमाल कर रहे है।और करीबन 1 करोड़ 25 लाख मोबाईल धारक व्हाट्सअप का इस्तेमाल कर रहे है। इसलिए सोशल मीडिया का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है। केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं को सोशल मीडिया के जरिये आमजनता के बीच में पहुँचाना चाहिए।

नोट:- कल दिनांक 08 जुलाई, 2017 को भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति इन्द्रलोक, नारायण सिंह सर्किल, जयपुर पर प्रातः 11.00 बजे प्रारम्भ होगी। कृपया फोटोग्राफी एवं रिकॉर्डिंग के लिए आप सादर आमंत्रित है।

Share this post